नई दिल्‍ली । भारत में कोरोना वायरस से हालात लगातार बदतर होते जा रहे हैं। देश में कोरोना वायरस मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। महाराष्ट्र‑तमिलनाडु में स्थिति ज्यादा खराब है। देश में 24 मई को रिकॉर्ड 7111 मामले आए हैं। इनमें से महाराष्ट्र में 3 हजार से अधिक संक्रमित मिले हैं। इसके बाद कोविड 19 की चपेट में 1,38,536 लोग आ चुके हैं।

वहीं, देश में कोरोना वायरस के मरीज बढ़ने के साथ ही मौत का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। देश में 24 मई देर रात तक 156 लोगों ने दम तोड़ा है। इनमें से अकेले महाराष्ट्र में 58 लोगों की मौत हुई है। इसके अलावा दिल्ली में 30, गुजरात में 29 मरीज महामारी का शिकार बने हैं।

इसी के साथ थोड़ा संतुष्‍ट इस बात पर अवश्‍य हुआ जा सकता है कि देश में कोरोना संक्रमण तेज होने के साथ ही इस महामारी से ठीक होने वाले मरीजों का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। देश में पिछले 24 घंटे में 3283 मरीज ठीक हुए हैं। इनमें से 1196 मरीज सिर्फ महाराष्ट्र में ठीक हुए हैं। इसके अलावा तमिलनाडु में 833 मरीज ठीक होकर घर पहुंचे हैं।

भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई में 30 हजार से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। मेट्रो शहर में तेजी से फैल रहे आंकड़ों का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि पूर्व मुख्यमंत्री अशोक च्वाहण भी महामारी की चपेट में आ गए हैं। आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र में कल 3041 लोग संक्रमित हुए हैं इनमें से सिर्फ मुंबई में 1725 लोगों में वायरस की पुष्टि हुई है। महाराष्ट्र में रिकॉर्ड कुल 50231 लोग कोविड 19 से संक्रमित हुए हैं।

महाराष्ट्र के अलावा तमिलनाडु में 765, दिल्ली में 508, गुजरात में 394, मध्यप्रदेश में 294, राजस्थान में 286, उत्तर प्रदेश में 251 और पश्चिमी बंगाल में 208 लोग संक्रमित हुए हैं। इसके बाद देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा डेढ़ लाख के करीब पहुंचता जा रहा है। अभी तक 1,38,536 लोग संक्रमित हुए हैं। इनमें से 76811 मरीज सक्रिय है यानि अस्पतालों में उपचार चल रहा है। अभी तक 57662 लोग ठीक हो चुके हैं और 4024 मरीजों की महामारी से मौत हुई है।