कराची । केन्द्रीय अनुबंध नहीं मिलने से नाराज  पाकिस्तान के तेज गेंदबाजों हसन अली और मोहम्मद आमिर ने पीसीबी का वॉट्सएप ग्रुप छोड़ दिया है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने ये ग्रुप फिटनेस से जुड़े संदेश भेजने के लिए बनाया था।  क्रिकेट पाकिस्तान की एक रिपोर्ट के मुताबिक इन दोनों खिलाड़ियों के वॉट्सएप ग्रुप छोड़ने के वास्तविक कारणों का पता नहीं लगा है। पीसीबी के सूत्रों ने बताया कि जब भी किसी खिलाड़ी को केन्द्रीय अनुबंध नहीं मिलता तो वो अपने आप ही ग्रुप छोड़ देता है। इसलिए आमिर और हसन अली का वॉट्सएप ग्रुप से हटना कोई नई बात नहीं है। गौरतलब है कि हसन अली कमर में चोट के चलते पिछले साल ज्यादा मैच नहीं खेल पाए थे और एक बार फिर उनकी कमर की चोट उबर पाई है, जिस वजह से पीसीबी ने उन्हें अनुबंध नहीं दिया। पीसीबी हसन अली को इलाज के लिए ऑस्ट्रेलिया भेज सकती है पर ये सब हालात सामान्य होने के बाद ही हो सकेगा। वहीं मोहम्मद आमिर को केन्द्रीय अनुबंध नहीं देने के पीछे अन्य कारण हैं। माना जा रहा है कि आमिर ने ऑस्ट्रेलिया दौरे से पहले अचानक ही टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था जिसके बाद पाकिस्तान के कोच, पीसीबी के अधिकारी उनसे नाराज हो गए थे। यहां तक कि पूर्व कप्तान वकार यूनुस ने आमिर को धोखेबाज तक करार दिया था। इसके बाद जब केन्द्रीय अनुबंध का ऐलान किया गया तो उसमें आमिर का नाम नहीं था।