वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का कहर देश में लगातार बढ़ता जा रहा है। इसी बीच एक अच्छी खबर यह है कि इस बीमारी से अब तक 100 लोग ठीक हो चुके हैं। सोमवार को पश्चिम बंगाल, गुजरात और महाराष्ट्र में एक-एक लोगों की मौत हो चुकी है। देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 29 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटों में 92 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही कुल मरीजों की संख्या 1071 हो गई है। इसमें 99 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और एक बाहर चला गया है। जबकि 942 लोगों का अभी इलाज चल रहा है। दिल्ली में आज 25 नए मामले सामने आए है। 

पिछले 2 दिनों में लगभग 200 लोगों को चेक-अप के लिए ले जाया गया

हमने मरकज बिल्डिंग को निजामुद्दीन के बाकी हिस्सों से आइसोलेट कर दिया है। हम लोगों को चेक-अप के लिए बाहर ले जाने में स्वास्थ्य विभाग की सहायता कर रहे हैं, पिछले 2 दिनों में लगभग 200 लोगों को चेक-अप के लिए ले जाया गया हैः दिल्ली पुलिस

कोरोना संकट से निपटने लिए पुरी ने सांसद निधि से एक करोड़ रुपये दिए

आवासन एवं शहरी विकास मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कोरोना वायरस के संकट से निपटने में सहायता के लिए अपनी सांसद निधि से एक करोड़ रुपये दिए हैं। पुरी ने सोमवार को ट्वीट कर बताया कि उन्होंने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने और नियंत्रण के लिए सांसद निधि से एक करोड़ रुपये सहायता राशि के रूप में देने की मंजूरी दी है। 

174 संभावित संक्रमितों को लोक नायक अस्पताल में भर्ती कराया गया

174 संभावित संक्रमितों को लोक नायक अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जिसमें से 163 मरीज निजामुद्दीन से हैं। कल 85 मरीज आए जबकि 34 को आज भर्ती कराया गया। हमने उनके लिए सभी व्यवस्थाएं की हैं। लोक नायक अस्पताल के वरिष्ठ अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि निजामुद्दीन के संभावित रूप से संक्रमित कोरोना मरीज की कल की मृत्यु हो गई, उसकी जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है।

एक वेंटिलेटर का कई रोगी कर सकेंगे प्रयोग, डीआरडीओ ने विकसित किया ऐसा तंत्र

हमने एक तंत्र विकसित किया है जिसके साथ एक वेंटिलेटर का उपयोग कई रोगियों के लिए किया जा सकता है। मान लीजिए, रोगियों की एक बड़ी संख्या है और वेंटिलेटर की कमी है, तो हम कई रोगियों के लिए एक वेंटिलेटर का उपयोग कर सकते हैं। यह जानकारी डीआरडीओ के चेयरमैन जीएस रेड्डी ने दी है। 

रेड्डी ने कहा है कि इस वेंटिलेटर का परीक्षण कुछ अस्पतालों और डॉक्टरों ने किया है और यह काम कर रहा है। चिकित्सा विशेषज्ञों ने हमें अधिक सुझाव दिए हैं। संभवतः अगले कुछ दिनों में, नई सुविधाओं के साथ हम अंतिम उत्पाद के साथ तैयार हो जाएंगे।